बल (Force) PDF In Hindi


बल (Force)
  • बल वह बाहरी कारक है, जो किसी वस्तु की प्रारंभिक अवस्था यानी विराम की अवस्था या एक सरल रेखा में एकसमान गति की अवस्था को परिवर्तित कर सकता है, या परिवर्तित करने का प्रयास करता है। बल का SI मात्रक न्यूटन है। इसका CGS मात्रक डाइन है। 1 N= 105 dyne होता है।
Read Also ----

बलों के प्रकार :-
प्रकृति में मूलतः बल चार प्रकार के होते हैं। विश्व के सभी बल इन्हीं के अन्तर्गत जाते हैं। ये बल हैं
  1.  गुरुत्वाकर्षण बल
  2. विधुत चुम्बकीय बल
  3.  दुर्बल या क्षीण बल
  4.  प्रबल बल


 👉


 Dwanload Also :- 


Post a Comment

0 Comments