परमाणु सिद्धान्त, तत्वों का आवर्ती वर्गीकरण PDF Download

परमाणु सिद्धान्त, तत्वों का आवर्ती वर्गीकरण गुणधर्म (Atomic Theory, Periodic Classification and Properties of Elements)

नमस्कार दोस्तों ----
आप सब का स्वागत है www.mygknotes.com में।  दोस्तों डेली Current Affairs pdf और अन्य ढेर सारी pdf पाने के लिए जुड़े रहे हमारी वेबसाइट mygknotes.com से।  दोस्तों हमारी वेबसाइट से जुड़े रहने के लिए निचे दिए FOLLOW के बटन को दबाकर FOLLOW कर ले ताकि आपको हर pdf का Notification सबसे पहले मिले सके।  और दोस्तों हमारे द्वारा उपलब्ध की उचित जानकारी आपको अच्छी लगी तो आपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले। 
Gk Notes And Exam Paper In Hindi 👉 Click Here To Read
 Download Also ----
All Current Affairs PDF =Click Here To Download

परमाणु सिद्धान्त, तत्वों का आवर्ती वर्गीकरण गुणधर्म (Atomic Theory, Periodic Classification and Properties of Elements)

परमाणु सिद्धान्त, तत्वों का आवर्ती वर्गीकरण व गुणधर्म
 (1) सर्वप्रथम डॉल्टन ने परमाणु सिद्धान्त दिया था जिसके अनुसार प्रत्येक पदार्थ परमाणु से बना होता है।

(2) परमाणु के बारे में प्रथम मॉडल थॉमसन ने दिया था, जिसे प्लम पुडिंग मॉडल कहते हैं। इसके अनुसार परमाणु एक धनावेशित गोला होता है जिसमें ऋणावेशित इलेक्ट्रॉन समान रूप से वितरित रहते हैं।

(3) रदरफोर्ड के परमाणु मॉडल के अनुसार परमाणु का अधिकांश भार तथा धनावेश उसके मध्य में स्थित होता है, उसे नाभिक कहते हैं तथा परमाणु का अधिकांश भाग रिक्त होता है जिसमें इलेक्ट्रॉन नाभिक के चारों ओर चक्कर लगाते हैं।

(4) नील्स बोर के परमाणु मॉडल के अनुसार परमाणु में इलेक्ट्रॉन नाभिक के चारों ओर निश्चित ऊर्जा के ऊर्जा स्तरों (कक्षा) में गति करते हैं।

(5) ऊर्जा स्तरों को K, L, M, N..... (1, 2, 3, 4.....) द्वारा प्रदर्शित किया जाता है।

(6) तत्वों के क्रमबद्ध अध्ययन के लिए उनका वर्गीकरण किया गया।

(7) वर्गीकरण के प्रारम्भिक प्रयासों में डोबराइनर के त्रिक तथा न्यूलैंड का अष्टक नियम आदि दिये गए।

(8) डोबराइनर के त्रिक-डोबराइनर ने तीन-तीन तत्त्वों के समूह बनाए जिनके गुण समान थे, इन्हें डोबराइनर के त्रिक कहा जाता है। इस समूह में बीच वाले तत्त्व का परमाणु भार, शेष दो तत्त्वों के परमाणु भार के औसत के लगभग बराबर था। अतः उसके गुण भी दोनों तत्त्वों के गुणों के बीच के थे। उदाहरण Li, Na तथा K.

(9) न्यूलैंड का अष्टक नियम-न्यूलैंड ने तत्वों को परमाणु भार के आरोही क्रम में व्यवस्थित किया और पाया कि प्रत्येक आठवें तत्व के गण, पहले तत्व के समान होते हैं जैसे संगीत में आठवाँ स्वर पहले स्वर से मिलता है, इस न्यूलैंड का अष्टक नियम कहते हैं। लगा

(10) मैन्डेलीफ द्वारा तत्वों के वर्गीकरण का आधार परमाणु भार था।

Post a Comment

0 Comments